राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद यूपी की चार दिवसीय यात्रा पर लखनऊ पहुंचे, आज BBAU के दीक्षान्‍त समारोह में होंगे शामिल

राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद तीन महीने बाद आज फिर से उत्‍तर प्रदेश पहुंचे हैं। इस बाद उनका दौरा चार दिन है। 11:30 बजे विशेष विमान से वह एयरपोर्ट पर पहुंचे। वहां राज्‍यपाल आनंदीबेन पटेल और मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने उनका स्‍वागत किया।एयरपोर्ट से उनका काफिला के लिए रवाना हुआ। राष्‍ट्रपति 12:10 बजे राजभवन पहुंचे। आज शाम वह राजधानी के बाबा साहब भीमराव आम्बेडकर केन्द्रीय विश्वविद्यालय के नौवें दीक्षांत समारोह में हिस्सा लेंगे।


कल यानी 27 अगस्त को वह सरोजनीनगर स्थित कैप्टन मनोज कुमार पांडे यूपी सैनिक स्कूल के स्वर्ण जयंती समारोह में शिरकत करेंगे। वह एसजीपीजीआई के दीक्षांत समारोह में भी शिरकत करेंगे। 28 अगस्‍त को वह वायुमार्ग से गोरखपुर जाएंगे। वहां वह गुरु गोरक्षनाथ उत्तर प्रदेश राज्य आयुष विश्वविद्यालय का शिलान्यास और गोरक्षपीठ की ओर से बने महायोगी गोरखनाथ विश्वविद्यालय का शिलान्यास करेंगे। इसके बाद लखनऊ लौट जाएंगे। 29 अगस्त को सुबह नौ बजे स्पेशल प्रेसीडेंशियल ट्रेन से अयोध्या जाएंगे। वहां रामलला के दर्शन के बाद रामायण कॉन्क्लेव का उद्घाटन करेंगे। 30 अगस्‍त को वह दिल्ली रवाना हो जाएंगे।

राजधानी में जोरदार स्‍वागत

लखनऊ में राष्ट्रपति के स्वागत की जोरदार तैयारियां की गई हैं। उननके आगमन को ध्यान में रखते हुए राजधानी में चप्‍पे-चप्‍पे पर सुरक्षा के इंतजाम हैं। बीबीएयू दीक्षांत समारोह मे राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद मुख्य अतिथि होंगे। उनके साथ प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ मौजूद रहेंगे। समारोह की तैयारी को लेकर कुलपति प्रो. संजय सिंह लगातार समीक्षा बैठक कर रहे हैं। सभागार के मंच से कुल सात मेडल दिए जाएंगे। उन्होंने बताया कि दीक्षांत समारोह में शामिल होने के लिए 72 घंटे पहले कोरोना जांच कराना अनिवार्य है।

राजधानी में जोरदार स्‍वागत

लखनऊ में राष्ट्रपति के स्वागत की जोरदार तैयारियां की गई हैं। उननके आगमन को ध्यान में रखते हुए राजधानी में चप्‍पे-चप्‍पे पर सुरक्षा के इंतजाम हैं। बीबीएयू दीक्षांत समारोह मे राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद मुख्य अतिथि होंगे। उनके साथ प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ मौजूद रहेंगे। समारोह की तैयारी को लेकर कुलपति प्रो. संजय सिंह लगातार समीक्षा बैठक कर रहे हैं। सभागार के मंच से कुल सात मेडल दिए जाएंगे। उन्होंने बताया कि दीक्षांत समारोह में शामिल होने के लिए 72 घंटे पहले कोरोना जांच कराना अनिवार्य है।