हिंदी भाषा में पालीटेक्निक व तकनीकी संस्थानों का पाठ्यक्रम का किया जाएगा

लखनऊ : पालीटेक्निक व तकनीकी संस्थानों के छात्र अब हंिदूी भाषा में भी तैयारी कर सकेंगे। सरकार अगले छह माह में यूपी की सभी तकनीकी संस्थानों में छात्र-छात्रओं का समावेशी विकास का अभियान चलाएगी। इसके तहत हंिदूी भाषा में प्राविधिक शिक्षा के पाठ्यक्रम को शुरू करने की तैयारी है। सरकार का प्रयास संस्थानों के छात्र-छात्रओं की शिक्षा, उनके स्वरोजगार, व्यक्तित्व विकास, संचार कौशल, सांस्कृतिक साक्षरता और रोजगारपरक व्यावसायिक स्किल्स का विकास करना है।


युवाओं के विकास के लिए सरकार ने समयबद्ध व समन्वित अभियान चलाने की तैयारी कर ली है। प्राविधिक शिक्षा विभाग की ओर से युवाओं की शिक्षा में गुणात्मक सुधार, रोजगार के अवसरों को बढ़ाने की रणनीति बनाई है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश के सभी राजकीय तकनीकी संस्थानों में प्लेसमेंट और छात्र-छात्रओं को रोजगार के अवसर देने के अभियान को तेज करने के निर्देश दिये हैं। इतना ही नहीं सरकार इसी माह के अंत तक सभी पालीटेक्निक व तकनीकी संस्थानों के परिसरों में पढ़ने वाले छात्रों को वाई-फाई की सुविधा भी देने जा रही है। इसके अलावा कानपुर के एचबीटीयू व गोरखपुर के एमएमएमयूटी तकनीकी विश्वविद्यालयों में दिसंबर 2021 तक दो से पांच स्टार्ट-अप रजिस्टर कराने के निर्देश भी दिये हैं।

’>>युवाओं के समावेशी विकास के लिए सरकार छह माह में तेजी से चलाएगी अभियान