बिना संस्तुति एनओसी देने पर डीआइओएस दोषी पाए गए, शासन ने बुधवार को उन्हें निलंबित किया

लखनऊ : दो निजी कालेजों को सीबीएसई की संबद्धता दिलाने में मीरजापुर के जिला विद्यालय निरीक्षक (डीआइओएस) देवकी सिंह फंस गए हैं। बिना संस्तुति एनओसी देने में वे प्रथम दृष्टया दोषी पाए गए, शासन ने बुधवार को उन्हें निलंबित कर दिया है। साथ ही अनुशासनिक जांच की भी संस्तुति की गई है, सीटीई प्रयागराज के प्राचार्य शील वर्मा को जांच अधिकारी बनाया गया है।